Posts

Image
Narm Raat me Chand  jab chhat pe
aaye, Dil kahta Hai Teri ek  tasveer Bana li Jaye___Siraj Ali

दो लफ़्ज़ों की है दास्ताने-सिराज ,, तू न समझे तो किताब क्या है!!!

Image
दो  लफ़्ज़ों की है दास्ताने-सिराज    दो  लफ़्ज़ों की है दास्ताने-सिराज ,,                                               तू न समझे तो किताब क्या है!!!

कतरा-कतरा मेरी चाहत का संजोया होगा__सिराज अली

Image
कतरा- कतरा मेरी चाहत का संजोया होगा




कतरा- कतरा मेरी चाहत का संजोया होगा हां यकीनन उसने खुद को डुबोया होगा।               ख्वाब जिसके आते रहे मुझे हर पल                 चैन से वोह भी कहां सोया  होगा । वोह खुश नहीं मुझे इतना करके देकर  आंसू वोह भी  तो रोया होगा ।           वफा के बदले वफ़ा में यकीं नहीं मुझको             प्यार कहां फिर तो यह सौदा होगा । सिराज के साथ खुद को पाकर शरमाये होंगे आईना प्यार का जब ख्वाब में जोड़ा होगा ।

_________________By Siraj Ali

हिसाब न रखना तो बुरी आदत है सिराज

Image
हिसाब न रखना तो बुरी आदत है सिराज हिसाब न रखना तो बुरी आदत है सिराज ,                                                          फिर क्यों?उसे बे हिसाब चांहा था